Google+ Followers

Monday, December 11, 2017

शरण में आया तेरी राम जी




शरण में आया तेरी राम जी


संग मेरे घूमते थे, संग मेरे खाते
करते थे, मुझसे वे बड़ी बड़ी बातें
दुर्दिन में मेरे वो   ,आये नहीं काम जी
अब तो शरण में ,मैं आया तेरी राम जी

यार दोस्त देखे मैनें, देखे मैनें नाते
परे मेरे जाती हैं ,दुनिया की बातें
बचपन ,जबानी बीती , आयी अब शाम जी
अब तो शरण में ,मैं आया तेरी राम जी

काब्य प्रस्तुति : 
मदन मोहन सक्सेना

No comments:

Post a Comment